breaking news New

आखिर कैसे फैलता है डेंगू, जानिए इसके लक्षण

आखिर कैसे फैलता है डेंगू, जानिए इसके लक्षण

बुखार जैसी बीमारी में डेंगू बुखार को घातक माना जाता है, क्योंकि साधारण बुखार की अपेक्षा डेंगू ग्रसित मरीजों में प्लेटलेट्स की गिरावट तेजी से होती है, जो उसके लिए कभी कभी प्राणघातक भी साबित हो जाता है। हालांकि कुछ लोग इसे बहुत सामान्य समझते होंगे लेकिन अगर वक्त रहते इसका सही इलाज न हुआ तो यह जान पर भारी भी पड़ सकती है। इसलिए बरसात की समाप्ति होते ही बुखार आने पर मरीज की जांच जरूर कराएं ताकि बुखार के प्रकार का सही पता हो सके। दरअसल इस समय जानलेवा बीमारी डेंगू अपने पाव पसार चुकी है। अस्पताल खचाखच मरीजों से भरे पड़े हैं।

इस तरह फैलता है डेंगू वायरस

अगर कोई मरीज डेंगू बुखार से पीड़ित है तो उसके शरीर में डेंगू वायरस की मात्रा अधिक संख्या में होती है। ऐसे में जब एडीज मच्छर डेंगू के किसी मरीज को काटता है तो इसका मतलब वह उस इंसान का खून चूसता है। जिसके बाद खून के साथ डेंगू वायरस भी मच्छर के शरीर में चला जाता है और जब वहीं मच्छर किसी अन्य इंसान को काटता है तो वो वायरस दूसरे इंसान के शरीर में पहुंच जाता है। बता दें कि डेंगू मादा एडीज इजिप्ची मच्छर के काटने से होता है, जो बहुत ही घातक होता है।


डेंगू के प्रकार जानिए

डेंगू तीन तरह का होता है। पहला क्लासिकल (साधारण) डेंगू बुखार, दूसरा डेंगू हैमरेजिक बुखार (DHF) और तीसरा डेंगू शॉक सिंड्रोम (DSS)। इन तीनों डेंगू में से दूसरा और तीसरा डेंगू ज्यादा खतरनाक होता है। जबकि साधारण डेंगू बुखार धीरे धीरे स्वयं ही ठीक हो जाता है। अगर किसी को DHF या DSS है तो उस मरीज को तत्काल भर्ती कराकर इलाज कराना चाहिए, क्योंकि इसमें मरीज की जान को भी खतरा होता है। इसलिए सबसे पहले यह जानना जरूरी है कि पेशेंट को साधारण डेंगू है या DHF अथवा DSS है।


जानिए साधारण डेंगू बुखार के लक्षण

-अचानक तेज बुखार चढ़ने के साथ ठंड लगना।

-आंखों के पिछले हिस्से में असहनीय दर्द होना, जो आंखों को दबाने से बढ़ जाता है।

-सिर दर्द होना

-शरीर की मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द होना।

-शरीर में बहुत ज्यादा कमजोरी महसूस होना।

-गले में हल्का-सा दर्द होना।

-डेंगू का असर होने पर भूख न लगना और जी मचलाने के लक्षण प्रतीत होते हैं।

-डेंगू मरीज के चेहरे, गर्दन और छाती पर लाल रंग के रैशेज दिखते हैं।


जानिए डेंगू डीएचएफ के लक्षण

-शरीर में डेंगू डीएचएफ होने पर नाक और मसूढ़ों से खून आना शुरू होता है।

-शौच या उलटी करने पर खून आना।

-स्किन पर गहरे नीले-काले रंग के चिकत्ते पड़ जाना।


जानिए डेंगू डीएसएस के लक्षण

-इस डेंगू पेशेंट को बेचैनी महसूस होती है।

-तेज बुखार के बावजूद शरीर ठंडा महसूस होता है।

-नाड़ी कभी तेज और कभी धीरे चलने लगती है।

-धीरे-धीरे बदहवासी छाने लगती है।

-ब्लड प्रेशर एकदम लो हो जाता है।