breaking news New

केरल विधानसभा में नागरिकता संशोधन कानून वापस लेने का प्रस्ताव पास

केरल विधानसभा में नागरिकता संशोधन कानून वापस लेने का प्रस्ताव पास

केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन ने विधानसभा में सीएए को खत्म करने की मांग को लेकर एक प्रस्ताव रखा और यह पारित हो गया। उन्होंने कहा, “सीएए देश की धर्मनिरपेक्ष पहचान और संस्कृति के खिलाफ है और इससे नागरिकता प्रदान करने में धर्म के आधार पर भेदभाव होगा।

वहीं, भाजपा विधायक ओ. राजगोपाल ने इस प्रस्ताव का विरोध किया। उन्होंने कहा कि इस तरह का प्रस्ताव लाया जाना संकीर्ण राजनीतिक मानसिकता को दर्शाता है। मंगलवार को केरल विधानसभा का एक दिवसीय सत्र बुलाया गया है। इसमें अगले दशक के लिए एससी/एसटी को विधानसभा और संसद में आरक्षण बढ़ाने जाने के प्रस्ताव को अनुमोदित किया गया।