breaking news New

बिलासपुर : ट्रेनों में चोरी करने वाला पश्चिम बंगाल का सक्रिय गिरोह गिरफ्तार

बिलासपुर : ट्रेनों में चोरी करने वाला पश्चिम बंगाल का सक्रिय गिरोह गिरफ्तार

मुंबई-हाबड़ा रूट पर ट्रेनों में चोरी की वारदात को अंजाम देने वाले पश्चिम बंगाल के आठ सदस्यीय गिरोह को गिरफ्तार कर लिया गया है। उनके कब्जे से 18 हजार रुपये नकद और 93 हजार की सोने की चेन बरामद हुई है। चेन को वे टूथपेस्ट के पैकेट के अंदर छिपाकर रखे थे। आरोपितों के खिलाफ जीआरपी ने मामला पंजीबद्ध किया है।

इस गिरोह का पर्दाफाश रविवार की घटना की जांच के दौरान हुआ। हुआ यूं कि भिलाई निवासी सुरेशन कुमार शर्मा पत्नी के साथ अकलतरा जा रहे थे। दोनों अंत्योदय एक्सप्रेस से बिलासपुर स्टेशन पर उतरे। इसके बाद अकलतरा जाने विशाखापत्तनम-कोरबा लिंक एक्सप्रेस में पीछे के जनरल कोच में चढ़ रहे थे।

इस दौरान भीड़ का फायदा उठाकर किसी ने महिला के गले से सोने की चेन निकाल ली। यात्री ने जीआरपी थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। आरपीएफ में टॉस्क टीम व क्राइम ब्रांच को जांच की जिम्मेदारी सौंपी गई। वहीं जीआरपी थाना प्रभारी के नेतृत्व में एक टीम जांच में जुटी थी।

सबसे पहले घटना का सीसीटीवी फुटेज देखा गया। इस दौरान बैग रखे चार व्यक्ति महिला के चारों तरफ नजर आए। लेकिन कैमरे में उनका चेहरा नजर नहीं आ रहा था। जिस बैग को वह रखे थे उसी आधार दूसरे कैमरों से व्यक्तियों की पहचान की गई। इसी के आधार पर जांच की जा रही थी। सोमवार शाम ढलने के बाद फिर से वही चारो स्टेशन पर दिखे। इस पर आरपीएफ व जीआरपी की संयुक्त टीम ने उन्हें पकड लिया।

रिसाउल उर्फ बिशु सरदार है मुख्य सरगना

पूछताछ में यह बात सामने आई कि इस गिरोह का मुख्य सरगना तालदी नरसिंग दक्षिण परगना पश्चिम बंगाल निवासी रिजाउल उर्फ बिशु(36) पुत्र युसुफ सरदार है। गिरोह के अन्य सदस्यों में शहजादा मुल्ला निवासी तालदी हल्दीग्राम, तुतुर मैत्री निवासी कैनी हेलीकाप्टर मोड़, राहुल कोयल निवासी कैनी दूरबीन, प्रलय हलधर निवासी उतरतली काली नाला, रविउल सरदार निवासी बारुईपुर, मनोतोष मंडल निवासी मडा हल्दी व नाजीम खान निवासी वायरसील कैनी(सभी पश्चिम बंगाल निवासी) शामिल हंै।