breaking news New

इमरान खान की कुर्सी पर घिरे संकट के बादल, विपक्षी पार्टियां सरकार गिराने के लिए हुईं एकजुट

इमरान खान की कुर्सी पर घिरे संकट के बादल, विपक्षी पार्टियां सरकार गिराने के लिए हुईं एकजुट

इस्लामाबाद। पाकिस्तान में इमरान सरकार पर मुसीबतों के बादल मंडरा रहे हैं। पद संभालने के बाद से ही 'सेलेक्टेड पीएम' का तंज झेल रहे है इमरान खान के खिलाफ पाकिस्तान की अन्य पार्टियां एकजुट हो चुकी हैं।

पाकिस्तान की मुख्य दक्षिणपंथी पार्टी 'अक्षम' सरकार गिराने की तैयारी में है और इस बार उनका साथ देने के लिए विपक्ष ने भी हामी भर दी है।आर्थिक समस्याओं से उबारने में नाकाम इमरानअक्षम पार्टी ने देश में फैली आर्थिक संकट का ठिकरा इमरान सरकार पर फोड़ा है।

पार्टी ने इमरान खान को प्रधानमंत्री पद से हटाने के लिए आजादी मार्च निकालने का ऐलान किया है। पार्टी का कहना है कि इमरान खान देश को आर्थिक समस्याओं से उबारने में नाकाम साबित हुए हैं।सभी पार्टियां कर रही हैं ताजा चुनाव की मांगपाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, जमियत अलेमा-ए-इस्लाम-फज्ल (JUI-F) के प्रमुख मौलाना फज्लुर रहमान ने मुख्य विपक्षी पार्टियां PML-N और PPP के फैसले के बाद यह घोषणा की है।

इन दोनों पार्टियों ने प्रधानमंत्री खान को सत्ता से बाहर करने के लिए एक सम्मेलन बुलाया और सहमत होने का निर्णय लिया है। JUI-F के प्रमुख कहा कि सभी विपक्षी पार्टियों ने 25 जुलाई का चुनाव खारिज करते हुए ताजा चुनावों की मांग की थी।

नए सिरे से चुनाव की मांगएक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान JUI-F के शीर्ष नेता ने कहा कि इमरान सरकार फर्जी चुनावों का नतीजा है। अब इसे हटाने का वक्त आ गया है। हम सभी डी-चौक पर इकट्ठा होंगे। हम उनमें से नहीं हैं, जिन्हें आसानी से तितर-बितर किया जा सकता है।