breaking news New

रायपुर : दूसरे दिन भी नमक के थोक एवं चिल्हर विक्रेताओं की जांच

रायपुर : दूसरे दिन भी नमक के थोक एवं चिल्हर विक्रेताओं की जांच

रायपुर जिले में आवश्यक वस्तुओं की जमाखोरी एवं मुनाफाखोरी पर नियंत्रण के लिये जिला प्रशासन द्वारा लगातार माॅनिटरिंग की जा रही है। नमक की उपलब्धता एवं मूल्य नियंत्रण हेतु खाद्य एवं नापतौल विभाग के अधिकारियों के द्वारा आज दूसरे दिन भी नमक के थोक एवं चिल्हर विक्रेताओं की जांच की गयी ।

जांच में विकासखण्ड आरंग के ग्राम पलौद की सौभाग्य किराना स्टोर में अधिकतम खुदरा मूल्य (एम आर पी) से अधिक दर पर नमक का विक्रय किये जाने के फलस्वरूप पैकेजिंग कमोडिटी एक्ट 2011 के अंतर्गत कार्यवाही करते हुये प्रकरण पंजीबद्व कर कड़ी कार्यवाही की जा रही है।

कलेक्टर रायपुर  डॉ एस भारती दासन के द्वारा नमक के थोक एवं किराना दुकानों की नियमित जांच के निर्देश दिये गये हैं। थोक विक्रेताओं एवं अन्य चिल्हर विक्रेताओं को नमक की जमाखोरी एवं एम आर पी मूल्य से अधिक दर पर विक्रय नहीं किये जाने के सख्त निर्देश दिये गये हैं। कल भी 19 किराना दुकानों में नमक की उपलब्धता एवं विक्रय दर की जांच की गयी ।

जिले में नमक की उपलब्धता एवं आपूर्ति सामान्य है। रायपुर जिले में 3 लाख 74 हजार बीपीएल राशनकार्डधारी परिवारों को माह अप्रेल एवं मई 2020 के दो माह का नमक माह अप्रेल 2020 में निःशुल्क उपलब्ध कराया गया है।

खादय नियंत्रक श्री अनुराग सिंह भदौरिया ने बताया कि जांच दल के द्वारा नमक के व्यापारियों की नियमित जांच की जा रही है। नमक की जमाखोरी अथवा एम आर पी अधिक दर पर विक्रय किया जाना पाये जाने पर संबंधित व्यापारी के विरूद्व कड़ी कार्यवाही की जावेगी।