breaking news New

NRC-NPR पर मोदी सरकार और बीजेपी वाले लाख बार कहें, पर वे हमें 'बेवकूफ' नहीं बना सकते : ओवैसी

NRC-NPR पर मोदी सरकार और बीजेपी वाले लाख बार कहें, पर वे हमें 'बेवकूफ' नहीं बना सकते : ओवैसी

राष्ट्रीय नागिरकता रजिस्टर ( NRC ) और नेशनल पॉपुलेशन रजिस्टर ( NPR ) का विरोध लगातार बढ़ रहा है। एक बार फिर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन ( AIMIM ) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने इसको लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा है।

तेलंगाना के निजामाबाद में ओवैसी ने जनसभा को संबोधित किया। ओवैसी ने कहा है कि यूपीए के और अबके नेशनल पॉपुलेशन रजिस्टर में फर्क है। इस बार यह भी पूछा जाएगा कि मां-बाप कहां पैदा हुए ?

उन्होंने कहा कि 'नागरिकता को संदिग्ध लिखा जा सकता है, नाम पर कोई भी सवाल उठा सकता है, बाद में कह देंगे कि ये भारतीय नहीं है, ये रूल 4 में है. असम में 1 लाख 80 हजार लोगों को संदिग्ध बताया गया था, मां-बाप के नाम एनआरसी में है और 9 साल की बच्ची का नाम संदिग्ध लिखा गया।'

उन्होंने कहा कि असम में 8-9 साल से डिटेंशन सेंटर में लोग पड़े हैं। इतना बुरा हाल है कि पिछले 3 साल में 28 लोगों की मौत हो गई।

ओवैसी ने कहा, CAA और NRC के बराबर है। गृहमंत्री देश को गुमराह यह कह कर गुमराह कर रहे हैं कि इनमें संबंध नहीं है। वो देश से झूठ बोल रहे हैं।

उन्होंने कहा कि 'बीजेपी वाले लाख बार कहें, हमें 'बेवकूफ' नहीं बना सकते, हम भी थोड़े बहुत पड़े लिखे हैं। मैंने लंदन जाकर डिग्री हासिल किया।

प्रधानमंत्री के डिग्री का मजाक उड़ाते हुए कहा कि उनके जैसा डिग्री हमारे पास नहीं है। दुनिया में एक ही व्यक्ति है जिनके पास 'एंटायर पोलिटिकल साइंस' की डिग्री है।