breaking news New

कमलनाथ ने की इस्तीफे की घोषणा, राजभवन में राज्यपाल से मिलने पहुंचे

कमलनाथ ने की इस्तीफे की घोषणा, राजभवन में राज्यपाल से मिलने पहुंचे

मध्य प्रदेश में सियासी संकट के बीच सीएम कमलनाथ ने अपना इस्तीफा देने का फैसला किया है। उन्होंने भोपाल में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि वह आज राज्यपाल से मिलकर उन्हें अपना इस्तीफा सौंपेंगे। फिलहाल वह राज्यपाल से मिलने राजभवन पहुंच चुके हैं।

इससे पहले उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कर भाजपा पर निशाना साधा और कहा कि उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता ने मुझे पांच साल सरकार चलाने का बहुमत दिया था। लेकिन भाजपा ने प्रदेश की जनता के साथ धोखा दिया। लेकिन जनता उन्हें माफ नहीं करेगी।

कमलनाथ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि हमने हमने पहले दिन से काम शुरू कर दिया। किसानों की ऋण माफी के लिए कदम उठाया। शुद्ध का युद्ध, माफिया के खिलाफ अभियान शुरू किया। इसके अलावा भी कमल नाथ ने कई योजनाओं का जिक्र किया।

मुख्यमंत्री कमलनाथ की प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा कि प्रदेश की जनता ने मुझे पांच साल सरकार चलाने का बहुमत दिया था। लेकिन भाजपा ने प्रदेश की जनता के साथ धोखा दिया। उन्होंने कहा कि भाजपा शुरू से कहती आ रही है कि ये सरकार सिर्फ 15 दिन चलेगी।

सीएम कमलनाथ ने कहा कि इस देश के लोग उस घटना के पीछे की सच्चाई देख सकते हैं जहां विधायकों को बेंगलुरु में बंधक बनाया जा रहा है...सच्चाई सामने आ जाएगी। लोग उन्हें माफ नहीं करेंगे।कमलनाथ ने कहा कि भाजपा पिछले 15 महीनों से सरकार गिराने की साजिश कर रही है। धोखा देने वालों को प्रदेश की जनता कभी भी माफ नहीं करेगी। महाराज के साथ मिलकर भाजपा ने जनता को धोखा दिया है। 

फ्लोर टेस्ट से पहले एमपी के सीएम कमलनाथ ने कहा कि जनता ने हमें 5 साल का मौका दिया था। पिछले 15 महीनों में हमने काफी काम किया।